Select Page

विश्व मानवतावादी दिवस | World Humanitarian Day 2020

जय.. जय…

संयुक्त राष्ट्र मानवीय कार्यों के प्रमुख ‘स्टीफन ओब्रायन’ (Stephen O’Brien) के अनुसार यह मानवीयता को याद करने और विश्वभर के उन हजारों मानवीय सहायता कर्मियों को श्रद्धांजलि देने का दिन है, जिन्होंने संकट और घोर निराशा के बीच जरूरतमंद लोगों को जीवनरक्षक मदद मुहैया कराने के लिए अपनी जिंदगी जोखिम में डाली। World Humanitarian Day (WHD) is held every year on 19 August to pay tribute to aid workers who risk their lives in humanitarian service, and to rally support for people affected by crises around the world.

संयुक्त राष्ट्र का मानना है कि जिस तरह से लगातार दिन प्रतिदिन अनेक प्रकार के वैश्विक खतरे बढ़ रहे हैं इस बीच मानवीय कर्मियों का काम काफी अहम है। सीरिया से लेकर दक्षिण सूडान और मालदीव से लेकर अफ्रीका के भुखमरी वाले इलाकों तक मानवता कर्मियों ने बेहद ही अहम भूमिका निभाई है। संकट से जूझते विश्व के लोगों के लिए भोजन, पानी, स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी बुनियादी जरूरतों को पाने के लिए लाखों लोग रोज जूझते है। इन लोगों की सहायता करने के लिए और उसे नया आयाम देने के लिए विश्व मानवतावादी दिवस जैसे आयोजनों का महत्व बढ़ जाता है।

इस दिवस को विश्व भर में मानवीय कार्यों को प्रोत्साहन दिए जाने के अवसर के रूप में भी देखा जाता है। यह दिन दुनिया भर में मानवीय जरूरतों पर ध्यान आकर्षित करने की मांग करता है और इन जरूरतों को पूरा करने में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के महत्व की आवश्यकता को व्यक्त करता है।

“मानवता का प्रकाश सार्वकालिक, सार्वदेशिक और सार्वजनिक है। इस प्रकाश का जितनी व्यापकता से विस्तार होगा, मानव समाज का उतना ही भला होगा।”

ललित गर्ग

इस वर्ष, विश्व मानवतावादी दिवस विशेष है क्योंकि हमारे पास ऐसे कई लोग हैं जो बीमार लोगों को बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालते हैं। वर्ष 2020 हम सभी के लिए एक आपदा रहा है, और फिर भी COVID-19 के बीच जीवन बचाने के लिए काम करने वाले लोग प्रशंसनीय हैं। मानवतावादी केवल डॉक्टर ही नहीं बल्कि नर्स, अस्पताल कर्मी, पुलिस अधिकारी और कई अन्य सरकारी कर्मचारी भी हैं जो इस समय के दौरान दुनिया की बेहतरी में शामिल हैं।

जय.. जय…

“THE LIGHT OF HUMANITY IS EVERLASTING, UNIVERSAL, & PUBLIC. THE GREATER THE EXTENT OF THIS LIGHT, THE BETTER WILL BE THE HUMAN SOCIETY. ”

Lalit Garg

आपकी टिप्पणियों का यहाँ स्वागत है। कृपया इस पोस्ट पर अपनी टिप्पणी डालने के लिए नीचे स्क्रॉल करें।

Your comments are welcome here. Please scroll down to put your comment on this post.

0 Comments

Submit a Comment

If you like the above post, then please click on the “LIKE” button. If you are a Facebook account holder then you can share this page to your Facebook friends also. You may require to login to your Facebook account. If you don’t have FaceBook account, you can comment here below.